Wi-Fi क्या है और ये कैसे काम करता है-What is Wifi in hindi

आजकल सभी लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते है और सभी ने Wi-Fi का नाम जरूर सुना होगा और इस्तेमाल भी किया होगा कभी न कभी आपके मन में ये सवाल जरूर आया होगा की Wifi Kya hai In Hindi और ये कैसे काम करता है इसकी Range कितनी होगी और इसका आविष्कार कब और किसने किया होगा ये सवाल आपके मन में जरूर कभी ना कभी आया होगा तो आज के आर्टिकल में हम ऐसी टॉपिक के ऊपर चर्चा करेंगे की What is Wifi in hindi या फिर ये काम कैसे करता है इन सभी के बारे में डिटेल में जानेंगे तो चलिए शुरू करते है इस आर्टिकल को पूरा पढ़ने के बाद आपको इन सभी सवालों का जवाब मिल जाएगा की Wifi kya hai ? इसकी Range कितनी होती है और ये कैसे काम करता है |

यह भी पढ़े :– ब्लूटूथ क्या है और ये कैसे काम करता है | पूरी जानकरी 

Wi-Fi क्या होता है – What Is Wi-Fi in hindi

Wi-Fi का पूरा नाम Wireless Fidelity है ये एक बहुत ही पॉपुलर नेटवर्क है जो भी व्यक्ति मोबाइल का यूज़ करता है उसने कभी  न कभी जरूर इस्तेमाल किया होगा Wi-Fi एक लोकप्रिय वायरलेस टेक्नोलॉजी का नाम है जो की  High स्पीड इंटरनेट और नेटवर्क कनेक्शन देने के लिए रेडिओ सिग्नल का उपयोग करता है असल में यह एक वायरलेस नेटवर्किंग सुविधा है जिसे WLAN यानि Wireless Local Area Network के नाम से भी जाना जाता है ये एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जिसके जरिये हम इंटरनेट और नेटवर्क कनेक्शन का इस्तेमाल कार रहे है  इसकी मदद से आप बहुत ही आसनी से मोबाइल , लैपटॉप , कंप्यूटर और प्रिंटर जैसे डिवाइस को इंटरनेट और नेटवर्क से जोड़ सकते है ये लोकल एरिया नेटवर्क के अंतर्गत आती है इसका मतलब ये है की ये काम एरिया तक ही होती है इसके जरिये हम एक सिमित स्थान तक ही जुड़ सकते है तो आपको समझ आ गया होगा की Wifi kya hai |

Wi-Fi से लोग आजकल सिर्फ इंटरनेट ही नहीं Wirelessly देता ट्रांसमिट भी करते है Share – Karo आदि | कहते है की वायरलेस फिडेलती का असल में कोई मतलब नहीं है असल में Wi-Fi Alyans Company  Wi-Fi डिवाइस को बनती है इसका नाम Hi-Fi यानि की High Fidelity से लिया गया है Wi-Fi एक स्टैंडर्ड है जिसका परं करके कंप्यूटर को Wireless Network से जोड़ा जाता है आज के समय में जितने भी स्मार्टफोन लैपटॉप , प्रिंटर और कंप्यूटर है इन सभी में एक Wi-Fi चिप रहती है जिसके जरिये वायरलेस रूटर्स से कनेक्ट करते है और इंटरनेट का यूज़ करते है Wireless Routers के जरिये ही Wi-Fi से डिवाइस से कनेक्ट होकर इंटरनेट Access कर सकते है लेकिन Router को भी Internet से जुड़े रहने के लिए DSL और Cable Mouden का यूज़ करना पड़ता है जो ISP से जुड़ा हुआ होता है वरना इंटरनेट Access नहीं हो पता है |

आजकल मार्किट में कई तरह से Hotspot Device भी आते है जिसमे वायरलेस लेच्नोलोग्य के माध्यम से इंटरनेट कनेक्ट हो जाता है जिससे की हम Wi-Fi का इस्तेमाल कर पाते है |

Wi-Fi का आविष्कार कब हुआ था ?

Wi-Fi का आविष्कार John O’ Sullivan ने 1991 ईस्वी में किया था John o’ Sullivan उस समय CSIRO ( Commonwealth Scientific And Industrial Research Organization ) कंपनी में नौकरी किया करते थे और ऐसा माना जाता है उनकी पूरी टीम ने मिलकर Wi-Fi नेटवर्क का आविष्कार किया था लेकिन John O’ Sullivan ने उसमे कुछ बदलाव करके Wi-FI नेटवर्क की स्पीड को और भी बढ़ा दिया और उसके सिग्नल को और बेहतर बनाया जिससे की Wi-Fi का आविष्कार John O’ Sullivan को माना जाता है |

Wi-Fi कैसे काम करता है ?

Wi-Fi technology में एक ऐसी डिवाइस लगी होती है जो की वायरलेस सिग्नल को ट्रांसमिट करती है जो की आमतौर पर Wi-Fi Router या Hotspot होता है इसमें वायरलेस राऊटर किसी  इंटरनेट से जुड़कर सुचना को रेडिओ तरंगो में बदल देता है और Wi-Fi डिवाइस वातावरण में मौजूद Wi-Fi संकेत से कनेक्ट होकर अपने आस पास एक छोटा सा wirelwss signal का एरिया बनता है जिसे की Wi-Fi जोन कहा जाता है ये एक छोटा वायरलेस नेटवर्क एरिया यानी की WLAN का रूप लेता है इस छोटे से एरिया में जितने भी डिवाइस होती है जैसे लैपटॉप , स्मार्टफोन , कंप्यूटर और प्रिंटर ये सभी डिवाइस में In Build Wireless Adapter लगा होता है जिसकी सहायता से ये डिवाइस बड़ी आसानी से डिवाइस Wi-Fi Signal को प्राप्त कर सकते है लेकिन Desktop Computer में In Build Wi-Fi Adopter नहीं होता है इस लिए USB Port के माध्यम से Adopter लगाकर Wi-Fi का इस्तेमाल करते है |

जब भी वायरलेस कम्युनिकेशन होता है तो ये हमेहा ही 2 Way Radio Communication में होता है 2 way communication कैसे होता है चलिए इसे आप को डिटेल में बताते है मन लीजिये एक लैपटोप Wi-Fi से कनेक्ट होकर इंटरनेट का उपयोग देता ट्रांसमिट करने के लिए कर रहा है तो आपके लैपटोप में जो वायरलेस अडॉप्टर जो होता है वो डेटा को रेडियो तरंग में बदल देता है और इसके Antina के प्रयोग से ट्रांसमिट करता है अब वायरलेस रूटर इस सिग्नल को रिसीव कर लेता है और ऐसे Decot कर डेटा है Rooter इंटरनेट वायर इन्फॉर्मेंशन को Physical Wired Ethernet Connection के माध्यम से इंटरनेट में भेजता है और इस तरह से Wi-Fi डिवाइस में डेटा भेजा जा सकता है यही प्रक्रिया ठीक इसके उल्टा भी काम करती है

जिसमे रूटर इन्फॉर्मेंशन रिसीव करता है फिर इसे रेडिओ सिग्नल में बदल देता है और फिर उसे उसे लैपटॉप के वायरलेस अडॉप्टर को भेज देता है Wi-Fi Rooter से निकलने वाली रेडियो तरंगे दीवार के पार हो जाती है जिसमे एक बिल्डिंग के अन्य कमरों में Wi-Fi का इस्तेमाल कर सकते है एक घर के लिए वायरलेस रूटर काफी होता है Wi-Fi नेटवर्क की गति रूटर के पास रहने से अधिक और दुरी बढ़ने के साथ काम होते जाती है अपने मोबाइल हे हॉटस्पॉट को भी आप रूटर की तरह इस्तेमाल करके दूसरे को इंटरनेट दे सकते है बीएस उसके स्मार्टफोन में Wi-Fi होना चाहिए |

यह भी पढ़े :- IQOO 7 5G स्मार्टफोन रिव्यु इन हिंदी 

Wi-Fi की रेंज कितनी होती है ?

Wi-Fi की रेंज सामान्य तौर पर ये नेटवर्क Traditionally 2.4Ghz का जो आउटर  होता है उसकी रेंज लगभग 150 Feet के आस पास होती है |

wifi kya hai in hindi

और अगर की बात करे तो इसकी रेंज 92 फ़ीट होती है और इसकी तुलना में जो की पुराने राऊटर होते है जो की 5Ghz Band की होती है और इसका रेंज इससे 3 गुना कम होता है |

Wi-Fi kya hai In Hindi

यह भी पढ़े :- Laptop और Computer में अंतर क्या है | पूरी जानकरी 

Wi-Fi के फायदे

  • Wi-Fi को आप बड़ी आसानी से स्मार्टफोन , टेबलेट , लैपटॉप को आसानी से कनेक्ट कर सकते है लेकिन आपको डिवाइस Wi-Fi रेंज में होनी चाहिए
  • Cellular Network की तुलना में Wi-FI की स्पीड काफी तेज़ होती है
  • मोबाइल डेटा की एक सिमा होती है लेकिन Broodband Connection से ली गयी Wi-Fi सेवा में हर रोज़ लगभग 50GB से ज्यादा डेटा मिलता है मतलब आप अनलिमिटेड भी कह सकते है जिससे आप जितना चाहे उतना डेटा का यूज़ कर सकते है
  • Wi-Fi रूटर के आप दुनिया के किसी भी देश में चला सकते है |

Wi-Fi के नुकसान

  • ये वायरलेस होने की वजह से इसमें आपको Full Security देना मुश्किल है
  • Wi-FI की रेंज ज्यादा नहीं होती है जिससे आप ज्यादा दूर जाने पर ये डिसकनेक्ट हो जाता है
  • जब एक ही Wi-Fi network एक साथ बहुत से डिवाइस से कनेक्ट हो जाता है तब इसका स्पीड धीमा हो जाता है |

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल में हमने जाना की Wi-Fi kya hai In Hindi और ये कैसे काम करता है इसके विषय में आपको पूरी जानकरी देने की कोशिश की है और अगर इसमें आपको किसी भी चीज़ की कमी लगे तो नीचे कमेंट करके जरूर बताये और ये जानकरी आपको पसंद आयी तो सोशल मीडिया पर शेयर करे |

4 thoughts on “Wi-Fi क्या है और ये कैसे काम करता है-What is Wifi in hindi”

Leave a Comment

%d bloggers like this: