Java क्या है इसका इतिहास – what is Java in hindi

Java Kya Hai  इस इंटरनेट और स्मार्टफोन की दौर में हमारे दिन की शुरुआत बिना मोबाइल की नहीं होती है और सुबह हम उठते है तो सबसे पहले मोबाइल का ही इस्तेमाल करते है और देख कर ही उठते है मोबाइल हमारे जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन गया है और हो भी क्यों न आज के टाइम ज्यादातर काम मोबाइल से ही हो जाता है लेकिन क्या कभी अपने सोचा है ये सभी सुविधा हमे मोबाइल पर ही एक क्लिक में कैसे मिल जाती है तो दोस्तों ये सब संभव हुआ एक उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के Java की वजह से अब आप सोच रहे होंगे की Java Kya Hai तो आज हमको इसी के बारे में बताने वाले है की Java Kya Hai in hindi अगर आप कंप्यूटर के स्टूडेंड है या फिर रह चुके है तो उसका नाम जरूर सुना होगा |

इसलिए आज के आर्टिकल में यही बताने वाले की Java Kya Hai या फिर what is Java in hindi ताकि इसके बारे में सभी को पता चल सके की जावा क्या है , इसका इतिहास क्या है ये कैसे काम करता है और आप Java लैंग्वेज  कैसे सीख सकते है तो फिर चलिए शुरू करते है |

Java क्या है ? ( What is java in Hindi )

जावा एक ऑब्जेक्टओरिएंटेड प्रोगामिंग लैंग्वेज है जिसे उच्च स्तरीय लैंग्वेज भी कहा जाता है क्युकी इसे मानव द्वारा आसानी से पढ़ा और देखा जा सकता है जावा एक मल्टीपल प्लेटफार्म और डिस्ट्रीब्यूटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसका उपयोग कंसोल एप्लीकेशन , GUI एप्लीकेशन , वेब एप्लीकेशन , मोबाइल एप्लीकेशन डेवेलपमेंट , गेम डेवेलपमेंट या PC या एम्बेडेड सिस्टम सिस्टम को बनाने के लिए किया जाता है |

java kya hai

जावा का Use कहा किया जाता है ?

जावा का इस्तेमाल लगभग सभी डिवाइस जैसे सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन डेवेलप के लिए भी किया जाता है जावा दूसरे प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना में सरल , बेहतर तेज़ और सुरक्षित प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जसका प्रयोग वर्तमान समय में केवल कम्प्यूटर्स में ही नहीं बल्कि मोबाइल फ़ोन , टेबलेट , इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे T.V , वाशिंग मशीन आदि में भी किया जाता है आजकल ऑनलाइन बैंकिंग , ऑनलाइन फॉर्म ये सभी जावा की हेल्प से संभव हो पाया है वर्तमान ने लगभग सभी कंपनी जावा को सपोर्ट करते है गूगल ने जावा को लिनक्स के साथ जोड़ते हुए मोबाइल डिवाइस के लिए एंड्राइड का नाम ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम डेवेलप किया गया है जो की आज के टाइम में काफी पॉपुलर हो चूका है

जावा लैंग्वेज वेब एप्लीकेशन जैसे वेबसाइट या ब्लॉग भी बनाया जा सकता है और मोबाइल के लिए ऐप भी बनाने में हेल्प करता है आज के टाइम में जितने भी वेब पेज है जो जावा स्क्रिप्ट पर चलते है एंड्राइड डिवाइस के लिए बहुत सारे ऐसे  एप्लीकेशन बनाए गए है जो की जावा में लिखा गया होता है ये एप्लीकेशन एंडॉयड के सॉफ्टवेयर डेवेलपमेंट SDK का उपयोग करके बनाया गया है |

जावा की इतिहास

जावा एक कंप्यूटर बेस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे James Gosling और उनके साथी Sun Microsystems ने सं 1991 में विकसित किया था James Gosling को जावा का प्रमुख डेवेलपर माना जाता है इस लैंग्वेज के बनाने के पीछे उनका एक ही सिद्धांत था “Write Once Run Anywhere ” जिसका मतलब ये था की लैंग्वेज को एक ही बार लिखा जाएगा और इस्तेमाल हर जगह किया जाएगा |

James Gosling और उनके टीम के द्वारा बनाये गए इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का नाम उन्होंने  Oak रखा था जिसके बाद सं 1995 में इसका नाम Oak से बदलकर Java रख दिया गया जावा के टीम के सदस्यों को Green Team भी कहा जाता है इन्होने एक लैंग्वेज को डेवेलप करने के लिए प्रोजेक्ट शुरू किया था जो की डिजिटल डिवाइस के लिए एप्लीकेशन डेवेलप करने में हेल्प करता है मुख्य रूप से जावा को कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे की T.V , सेट टॉप बॉक्स , VCR सॉफ्टवेयर बनाने के लिए डेवेलप किया गया था लेकिन ये इंटरनेट प्रोग्रामिंग के लिए बेस्ट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज बन गया James gosling ने इस प्रोग्राम का नाम सबसे पहले Greentalk रखा था जिसके बाद इसे बदलकर Oak रखा गया ये नाम पहले से ही Oak Technologies के द्वारा रजिस्टर था इसलिए इसे फिर से इसे बदलकर Java रखा गया

जावा का सबसे मुख्य और महत्वपूर्ण और पॉपुलर फीचर है की जावा लैंग्वेज प्लेटफार्म स्वतंत्र होता है इसका मतलब है की जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज किसी विशेष हार्डवेयर या ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए नहीं बनाया गया है इसलिए जावा पर बनाये गए प्रोग्राम किसी भी सिस्टम पर चल सकते है |

Java Version का इतिहास

  1. JDK Alpha & Beta ( 1995)
  2. JDK  1.0 ( 23 Jan 1996)
  3. JDK 1.1 ( 19 Feb 1997 )
  4. JDK 1.2 ( 8 Dec , 1997)
  5. J2SE 1.3 (8 May, 2000)
  6. J2SE 1.4 (6 Feb, 2002)
  7. J2SE 5.0 (30 Sep, 2004)
  8. Java SE 6 (11 Dec, 2006)
  9. Java SE 7 (28 July, 2011)
  10. Java SE 8 (18 Mar, 2014)
  11. Java SE  9 ( 9 Aug , 2017)
  12. Java SE 10 ( 20 Mar , 2018)
  13. Java SE 11 ( 25 Sep , 2018)
  14. Java SE 12 ( 19 March 2019)
  15. Java SE 13 ( 17 Sep , 2019 )
  16. Java SE 14 ( 17 Mar , 2020)
  17. Java SE 15 ( 15 Sep , 2020 )
  18. Java SE 16 ( 16 Mar , 2021 )
  19. Java SE 17  ( 14 Sep , 2021 )
  20. Java SE 18 ( 22 Mar 2022)

जावा एक ऑब्जेक्ट और ओरिएंटेड लैंग्वेज है जो की C और C++ लैंग्वेज पर आधारित है लेकिन जावा को और भी सिम्पलीफाई और सुधार किया गया है जिससे प्रोग्रमिण फीचर्स के Error को दूर किया जाये जावा सोर्स कोड की फाइल जिसका एक्सटेन्स .java होता है उनको कम्पाइलर की हेल्प से Bitcode फॉर्मेट में जेनेरेट किया जाता है और फिर जावा इंट्रीपिटर उसको एक्सीक्यूट करता है Complide Java को सभी कंप्यूटर पर Java Virtual  Machine की हेल्प से Run होता है JVM एक वर्चुअल मशीन है जो की Run Time environment उपलब्ध कराता है जहा पर Java प्रोग्राम को Run किया जाता है जितने भी कंप्यूटर जावा प्रोग्राम को Run करते है उन सभी में पहले से JVM इनस्टॉल रहता है इसलिए जावा का सोर्स कोड सभी प्लेटफार्म में चलता है |

जावा के प्रकार – Types Of Java in hindi

जावा वास्तव में एक बहुत ही बड़ी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है इसलिए सन मैक्रोसिस्टम्स ने इसे कई भागे में बाँट दिया ताकि जो प्रोग्रामर जिस केटेगरी से जुड़े सॉफ्टवेयर डेवेलप करना चाहते है उन्हें केवल उसी केटेगरी से सम्बंधित जावा के बारे में जानने की जरूरत पड़े जावा को मूल रूप से 3 हिस्सों में बांटा गया है

  1. Java Micro Edition ( J2ME )
  2. Java Standard Edition ( J2SE )
  3. Java Enterprise Edition ( J2EE)

Java के फीचर

1 . Object Oriented

जावा एक शुद्ध Object Oriented Programming Language है यानि OOPs है अर्थात  इसमें Procedures का प्रयोग नहीं किया जाता है बल्कि यह सिर्फ Objects पर आधारित लैंग्वेज है जावा OOPs के Concept को फॉलो करता है जो सॉफ्टवेयर डेलवपमेंट को मेंटेनेंस के काम को सरल बनाती है |

2 . Platform Independent

जावा प्लेटफार्म इंडिपेंडेंट लैंग्वेज है अर्थात ये हर किसी प्लेटफार्म में Run हो सकती है जैसे एंड्राइड , विंडोज , लिनक्स और Mac. जावा में लिखे गए प्रोग्राम्स किसी भी ऑपरेटिंग  सिस्टम में Run किये जा सकते है जैसे अगर आपने Java का प्रोग्राम Windows OS में लिखा है तो उसे हम Linux OS में भी आसानी से Run कर सकते है |

3 . Secure

जावा एक बहुत बड़ा फीचर यह है की यह एक सुरक्षित लैंग्वेज है जावा सबसे अधिक सुरक्षित है क्युकी जावा प्रोग्राम Java Run Time Enviroment में Run होता है मशीन कोड जेनेरेट करने से पहले प्रोग्रम को JVM पर कुछ Tests Run करके Error को Detect करती है जावा लैंग्वेज वायरस फ्री होती है जिससे प्रोग्रम्स सुरखित रहते है |

4 . Simple Language

जावा एक आसान लैंग्वेज है क्युकी इसमें C++ की तरह ही Syntax होते है जो की आसानी से सीखे जा सकते है लेकिन C++ की तरह इसमें Operator Overloading और Header Files का प्रयोग नहीं किया जा सकता है जिससे इसे सीखना और भी आसान हो जाता है |

5 . Portable

Java एक Portable Language है क्युकी जावा का सोर्स कोड को कम्पाइलर की हेल्प से Byte Code हर किसी सिस्टम में Run हो जाता है इसलिए इसे आसानी से प्रपात किया जा सकता है |

6 . Robust

Robust का मतलब होता  है  मजबूत जावा एनवायरनमेंट में बिना Crash हुए काम कर सकता है इसके प्रोग्राम कभी भी Crash नहीं होते जावा में जो भी Errors आती है उन्हें आसानी से ढूढ कर Solve किया जा सकता है इन्ही सभी कारणों से जावा Robust Language है

7 . Distributed

जावा एक Distributed Language है जिसका मतलब है की जावा से हम Distributed Applications बना सकते है ये वो एप्लीकेशन होते है जो अलग अलग नेटवर्क पर डिस्ट्रीब्यूट होकर रहते है लेकिन एक साथ मिलकर Task परफॉर्म करते है जावा http और ftp प्रोटोकॉल का प्रयोग किया जाता है जिससे की आसानी से इंटरनेट में डाटा को एक्सेस किया जाता है |

8 . Multi Threaded

जावा एक Multi threaded Language है जिसका मतलब है की जावा में बड़े बड़े प्रोग्राम को छोटे Sub Program में बांटा जाता है  और इन्हे Sub Programmer को क्रमानुसार Excute किया जाता है इसी तरह Java एक साथ कई Task पूरा कर सकता है ये Feature Java को Fast और Ineractive बनाता है इस फीचर का इस्तेमाल Multi Media और Web Application में किया जाता है

जावा का इस्तेमाल आज के टाइम में 3 बिलियन डिवाइस में इस्तेमाल किया जा रहा है जिससे आप समझ सकते है की ये कितना सुरक्षित है |

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल में हमने एक पॉपुलर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बारे में जाना की Java Kya Hai ये कितने प्रकार के होते है और इसके फीचर क्या है मुझे उम्मीद है की ये जानकारी आपको जरूर पसंद आयी होगी अगर आयी है तो इसे अपने सोशल मीडिया पर शेयर करे और कमेंट बॉक्स में भी अपनी राय जरूर दे |

Leave a Comment

%d bloggers like this: