रैम क्या है ये कैसे काम करता है what is ram in hindi

What is ram in hindi :-आप जब भी मोबाइल या फिर कंप्यूटर खरीदने जाते है तो आप दुकानदार से ये बाते जरूर  पूछते है इस मोबाइल या लैपटॉप में RAM कितने GB का लगा हुआ है लेकिन कुछ लोग बस Ram का नाम सुने हुए है लेकिन ये नहीं जानते की What is RAM in Hindi  इसलिए आज हम आपको बताने वाले है की RAM Kya Hai  या फिर रैम क्या है और ये कैसे काम करता है और साथ में ये भी जानेंगे की रैम कितने प्रकार का होता है तो चलिए शुरू करते है और आपको बताते है की What is RAM in hindi इस आर्टिकल को आखिरी तक पढ़िए जिससे आपको RAM से जुडी हुयी सभी जानकारी मिल जाएगी |

रैम क्या है – What is RAM in hindi

RAM का पूरा नाम आपको पता ही होगा जिसे Random Access Memory कहा जाता है  जो की एक सुपर फ़ास्ट और हाई स्पीड स्टोरेज होता है इसे आप कंप्यूटर की सॉर्ट टर्म मेमोरी भी कह सकते है इसे computering के Fundamental Elements में से एक माना जाता है RAM को Main Memory और प्राथमिक मेमोरी भी कहा जाता है RAM सुपर फ़ास्ट के साथ साथ अस्थाई डेटा स्टोरेज होता है जिसका इस्तेमाल कंप्यूटर वर्तमान समय में इस्तेमाल हो रहे डेटा को स्टोर करने के लिए करता है इसका मतलब जो प्रोग्राम लगातार इस्तेमाल होते है ये उन कॉमन डेटा को स्टोर करने का काम करता है RAM किसी भी कंप्यूटर की सॉर्ट टर्म मेमोरी होती है जब की कंप्यूटर की SSD और HDD long Term मेमोरी होती है जहा पर चीज़ो को स्टोर किया जाता है SSD और HDD के मुकाबले RAM काफी तेज़ काम करता है अब आपको समझ आ गया होगा की what is ram in hindiऔर अब जानेंगे की रैम काम कैसे करता है |

RAM का पूरा नाम क्या है – RAM full Form

रैम का पूरा नाम Random Access Memory होता है

रैम काम कैसे करता है

रैम आपको Allow करता है आप एक टाइम में एक साथ कई सारे प्रोग्राम अच्छी स्पीड के साथ कर सकते है RAM एक Hard Disk की तुलना में काफी तेज़ होता है ये Hard Disk से कम से 50-100 गुना तेज़ गति से कार्य कर सकता है इसका स्पीड पूरी तरह से निर्भर करता है सिस्टम के हार्डवेयर टाइप और Task पर इसके गति के कारण RAM को का उपयोग सूचना को तुरंत प्रोसेस करने के लिए किया जाता है |

What is RAM in hindi

जब आप किसी भी spacefic कार्य को पूरा करना चाहते है कंप्यूटर Operating System हार्ड डिस्क से डेटा को RAM में लोड करता है प्रोसेस करने के लिए जैसे मान  लीजिये की Excel Shit पर कोई काम करना चाहते है तो आपका कंप्यूटर RAM में एप्लीकेशन लोड करता है अगर आप पहले से Save किसी Excel में फाइल को ओपन करते है जो की आपकी हार्ड डिस्क में स्टोर है तो जब आप उसे ओपन करते है उस पर काम करने के लिए तो OS उस जानकारी को RAM में भी कॉपी करता है फिर आप Excel के साथ काम कर सकते है ज्यादातर परिस्थिति में कंप्यूटर बहुत जल्दी जवाब देता है क्युकी RAM तेज़ होती है जब आपका काम पूरा हो जाता है तो आप Excel में Save करते है तो आपका डेटा आपके हार्ड डिस्क या किसी लॉन्ग टर्म मेमोरी में save हो जाता है |

अगर आप अपनी फाइल को save करना भूल जाते है और बिजली चली जाती है और आपका सिस्टम बंद हो जाता है और आपका फाइल save नहीं हो पाता है तो रैम तो आपका फाइल तभी तक save रखता है जब तक फाइल Open रहती है हलाकि आप MS Office के जिस फाइल में आप काम करते है और अगर बिजली चली जाती है और किसी वजह से आपका सिस्टम बंद हो जाये और आपका File Unsave रह जाये तो आप दोबारा जब सिस्टम को ON करेंगे तो वो फाइल खुद डेस्कटॉप पर Open हो जाती है और जब आप एप्लीकेशन को बंद करते है कंप्यूटर OS उसे रैम से निकल लेता है और RAM को फ्री कर देता है |

What is RAM in hindi

रैम कितने प्रकार के होते है

मुख्य रूप से RAM दो के होते है लेकिन आकर में देखे तो कंप्यूटर और लैपटॉप के RAM में अलग अलग अनुसार से डिज़ाइन बनाया जाता है मोबाइल में RAM होता है लेकिन उसका आकर कंप्यूटर के मुकाबले छोटा होता है कंप्यूटर में 2 प्रकार के RAM का इस्तेमाल किया जाता है |

  1.  SRAM
  2. DRAM

SRAM क्या है

SRAM का पूरा नाम Static RAM होता है जैसे की नाम से ही पता चलता है Static यानि की स्थिर जब तक कंप्यूटर में कर्रेंट फ्लो होता रहेगा तब तक इसमें डाटा स्टोर होता रहेगा और अगर एक बार कंप्यूटर की बिजली कट गयी तो इसमें स्टोर सभी डाटा डिलीट हो जाएगी और RAM पूरी तरह से खली हो जाएगा इस कंप्यूटर में बार बार Refresh नहीं करना पड़ता क्युकी इसमें डाटा स्थिर होती है SRAM में बिजली की खपत भी कम होती है इसमें स्टोरेज क्षमता कम होती है और ये DRAM के तुलना में तेज़ गति से काम करता है और इसमें कोई खराबी आ जाये तो Mantance Cost ज्यादा लग जाता है |

DRAM क्या है

DRAM का पूरा नाम Dynamic RAM है और Static RAM की तुलना में विपरीत है इसमें डाटा स्थिर नहीं होती इसमें लगातार बदलाव होता रहता है इसलिए इसे Dynamic कहा जाता है Dynamic RAM भी volatile memory होते हैं इसमें भी बिजली कट जाने पर सभी डाटा रिमूव हो जाते है DRAM के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए इसे बार बार Refresh भी करना पड़ता है इसके कैपेसिटर जो की डाटा को स्टोर करते रहते है वो धीरे धीरे वो Power Energy को कम करते रहते है इसमें मेमोरी क्षमता SRAM के मुकाबले ज्यादा होती है ये बिजली को भी ज्यादा SRAM के मुकाबले खर्च करते है इसमें कोई खराबी आने पर Manatance Cost कम लगता है |

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल में हमने जाना की What is RAM in hindi और ये कैसे काम करता है , ये कितने प्रकार का होता है ये जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताये और सोशल मीडिया पर भी शेयर करे |

What is RAM  in hindi

Leave a Comment

%d bloggers like this: