VPN क्या है ,और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है -What is VPN

आज के समय में खुद को सिक्योर रखना काफी मुश्किल हो गया है और क्या आप ऑनलाइन सिक्योरिटी को या प्राइवेसी लेकर परेशान रहते है और क्या आपको लगता है की आप की किसी पर्सनल जानकारी हैकर के हाथ लग जाएगी आज के समय में जैसे जैसे स्मार्टफोन या फिर इंटरनेट यूजर बढ़ते जा रहे है रोज़ कोई न कोई चीज़ हम इंटरनेट पर ढूंढ़ते ही रहते है और इंटरनेट पर हम जरुरी कार्य भी करते है जैसे ऑनलाइन पेमेंट ट्रांजेक्शन ,  ऑनलाइन शॉपिंग और बिल पेमेंट्स को सिक्योर रखना चाहते  है तो आप VPN का यूज़ कीजिये अब आप सोच रहे होंगे की What is VPN in hindi  तो आज में आपको इसी के बारे बताने वाला हु VPN क्या है , इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है और क्या ये सिक्योर है या फिर VPN काम कैसे करता है इन सभी चीज़ो के बारे में आज हम आपको विस्तार से बताएंगे तो चलिए शुरू करते है |

What Is VPN in Hindi 

Also Read :- Bluetooth क्या है और ये कैसे काम करता है 

VPN क्या है -What is VPN in hindi

बिना सुरक्षित Wi-Fi नेटवर्क पर वेब सर्फिंग करने का मतलब है अपनी प्राइवेट जानकरी को पब्लिक कर देना सीधे सीधे शब्दों में बताये तो VPN एक नेटवर्क की तकनीकी है जो की पब्लिक नेटवर्क में जैसे इंटरनेट और प्राइवेट नेटवर्क जैसे की Wi-Fi की तरह ही एक सुरक्षित नेटवर्क कनेक्शन बनाता है VPN एक बढ़िया तरीका है अपना पर्सनल डेटा को हैकर से छुपाने के लिए VPN पब्लिक नेटवर्क यूज़ करते टाइम आपको प्रोटेक्टेड कनेक्शन मुहैया कराता है ये आपके ट्रैफिक को इन्क्रिप्ट करता है और आपकी ऑनलाइन Identity को Hide कर देता है ऐसे में 3rd Party के लिए आपकी ऑनलाइन एक्टिविटी ट्रैक करना और आपका डेटा चुराना मुश्किल हो जाएगा |

What Is VPN in Hindi 

VPN आपके PC , Smartphone के सर्वर को कनेक्ट करता है और आप उस कंप्यूटर के इंटरनेट कनेक्शन का यूज़ करके Browse कर सकते है VPN लीगल है और इनका यूज़ पूरी दुनिया में Indivisioul भी करते है और Comapny भी यूज़ करती है ताकि अपनी डेटा को हैकर से सुरक्षित रखा जा सके इसका इस्तेमाल ऐसी देशो में भी किया जाता है जहा पर Highly Restected Goverment होती है आप आपको समझ आ ही गया होगा की VPN Kya Hai  और पब्लिक्ली अपनी ऑनलाइन सिक्योरिटी के लिए VPN का यूज़ किया जा सकता है | What Is VPN in hindi

Also Read :- Bitcoin क्या है और इसे कैसे ख़रीदे 

VPN Kya Hai

VPN का पूरा नाम क्या है ?

VPN का पूरा नाम Virtual Private Network है |

VPN काम कैसे करता है -How does work VPN in hindi

आप अपने मन में ये सवाल जरूर आ रहा होगा की VPN काम कैसे करता है तो मैं आपको बता दू की जब आप एक Secure VPN सर्वर पर कनेक्ट होंगे तो आप का इंटरनेट ट्रैफिक एक इन्क्रिप्टेड टर्नल से गुज़रता है जिसे कोई नहीं देख सकता यानी न ही हैकर , न ही गवर्नमेंट और न ही आपका ISP ( Internet Service Provider ) यानी आपकी डेटा को Read नहीं किया जा सकता VPN कैसे काम करता है इसे समझने के लिए 2 सीटुएशन्स देखते है

  • VPN के बिना ( Without VPN)
  • VPN के साथ ( With VPN)

VPN के बिना

जब हम किसी भी वेबसाइट पर बिना VPN का विजिट करते है जिस भी कंपनी का हम इंटरनेट यूज़ करते है जैसे  Jio , Airtel , VI आदि उस इंटरनेट प्रोवाइडर ISP के जरिये ही Site पर कनेक्ट हो पाते है ISP हमे एक Unique एक IP एड्रेस देता है लेकिन क्युकी ISP ही हमारा पूरा ट्रैफिक ही हैंडल करता है और पता लगा सकता है की कब हम कौन सा Site विजिट करते है तो ऐसे में हमारी प्राइवेसी कहा हुयी |

What Is VPN in Hindi 

VPN के साथ

जब हम VPN के द्वारा इंटरनेट से कनेक्ट होते है तो हमारी डिवाइस पर जो भी VPN ऐप होता है यूज़ VPN क्लाइंट भी कहा जाता है और वो VPN सर्वर से सिक्योर कनेक्शन स्टैब्लिश करता है हमारा ट्रैफिक अभी भी ISP के थ्रो ही पास होता है लेकिन ISP उस ट्रैफिक का फाइनल डेस्टिनेशन नहीं देख पाता और जिन भी वेबसाइट पर हम विजिट करते है वो हमारा ओरिजिनल IP Address नहीं देख पाते |

What Is VPN in Hindi 

VPN से ही हम किसी भी वेबसाइट को आसानी से access कर सकते है जैसे मन लीजिये की India में कुछ टाइम पहले पहले Netfilx इंडिया में अभी कुछ टाइम पहले आया है लेकिन इंडिया के बहार ये बहुत टाइम पहले से ही चल रहा है अगर कोई भी यूजर बिना VPN के Netflix का उसे भारत करना चाहेगा तो नहीं कर सकता लेकिन यही पर काम आता हैउ VPN का VPN के द्वारा किसी भी देश का सर्वर यूज़ करके इंटरनेट पर उस वेबसाइट को Access कर सकते है |

What Is VPN in Hindi 

VPN की शुरुआत कैसे हुआ ?

VPN की शुरुआत 1996 में Microsoft में बनाया था ताकि ऐसे Employes जो उस ऑफिस में बैठकर काम नहीं करते बल्कि उसके बहार रहते हुए कही से भी काम करते हो वो Employes कंपनी के इंटरनेट नेटवर्क पर सिक्योर एक्सेस ले सके लेकिन ऐसा करने से जब कंपनी की प्रोटेक्टविटी डबल हो गयी तो बाकि कंपनी भी यूज़ करने लग गयी |

VPN कितने प्रकार के होते है ?

VPN के 2 बेसिक प्रकार होते है

1 . Remote Access VPN

2 . Site to site VPN

1 . Remote Access VPN क्या है

Remote Access VPN के जरिये यूजर दूसरे नेटवर्क पर एक एन्क्रिप्शन टर्नल के जरिये जुड़ पाते है इसके जरिये कंपनी के इंटरनेट सर्वर या पब्लिक इंटरनेट से कनेक्ट हुआ जा सकता है |

2 . Site To Site VPN क्या है

site to site VPN के Router To Router वपन भी कहा जाता है इसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल Corporate Environment में किया जाता है खास कर जब एक एंटरप्राइज के कई डिफरेंट लोकशन पर हेडक्वार्टर होते है ऐसे में Site to site VPN ऐसा क्लोज इंटरनेट टर्नल नेटवर्क बना देता है जहा पर सभी लोकशन एक साथ कनेक्ट हो सकते है इसे Intranet भी कहा जा सकता है |

VPN के फायदे क्या क्या है

VPN का बहुत सारे फायदे भी है जैसे

  • VPN की हेल्प से आप किसी भी Block वेबसाइट को आसानी से Open कर सकते है
  • VPN की हेल्प से आपका ब्राउज़िंग देता , IP Address और location , Streaming location , Device और Web Activity छिप जाती है जिसे कोई रीड नहीं कर सकता है
  • VPN का यूज़ करके आप हैकर से बच सकते है
  • VPN का आप प्ले स्टोर से Free और Paid Version दोनों मिल जाता है लेकिन फ्री वर्शन में आपको लिमिट मिलती है |

VPN के नुकसान

जैसे आप लोग को पता ही होगा की हर चीज़ के कुछ फायदे होते है और कुछ नुकसान भी होते है जैसे

  • इसमें आपको VPN यूज़ करते समय वैसा स्पीड नहीं मिलता जैसा की आपको बिना VPN यूज़ किये स्पीड मिलता है
  • इतना सिक्योर होने के बाद भी VPN आपको 100% सिक्योर नहीं है क्युकी उसके सर्वर पर आपका डेटा मिल जाएगा जिससे की आगे VPN प्रोवाइडर चाहे तो आपका डेटा पढ़ सकता है
  • आपको हमेशा एक ऐसी वेबसाइट से VPN लेना चाहिए जिससे आपको पूरा विश्वास हो की आपका डेटा पूरी तरह सिक्योर है

सही VPN कैसे चुने

सही VPN प्रोवाइडर कौन इसका आपको पता कुछ इस तरीके से लग जाएगा जैसे

  • VPN आपको एक अच्छी स्पीड दे
  • आपकी प्राइवेसी सिक्योर रहे
  • VPN सर्विस प्रोवाइडर हमेशा लेटेस्ट प्रोटोकॉल का यूज़ करे
  • उसकी डेटा लिमिट आपकी जरूरतों को पूरा करता हो
  • और आपको ये पता हो की किस Server की आप VPN यूज़ कर रहे हो उसका लोकेशन आपका पता हो
  • आप मल्टीपल VPN device पर एक्सेस ले सके
  • VPN का प्राइस ज्यादा न हो
  • बेस्ट कस्टमर सपोर्ट मौजूद हो
  • फ्री ट्रायल मौजूद हो
  • और Ads ब्लॉक करने की फसिलटी हो

VPN का मोबाइल में यूज़ कैसे करे

VPN का मोबाइल में आप इस्तेमाल आसानी से कर सकते है सबसे पहले आप एक अच्छी VPN Apps डाउनलोड करे जो Play store पर आसानी से मिल जाएगा फिर उसको इनस्टॉल करे और उससे कनेक्ट करे और फिर उसमे आप अपने लोकेशन के हिसाब से सर्वर कनेक्ट करके VPN का यूज़ आसानी से कर सकते है |

What Is VPN in Hindi 

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल मैं हमने जाना की What Is VPN in Hindi  और ये कैसे काम करता है VPN कितने प्रकार के होते है और इसका यूज़ आप मोबाइल में कैसे कर सकते है ये जानकरी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताये और सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर करे |

2 thoughts on “VPN क्या है ,और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है -What is VPN”

Leave a Comment

%d bloggers like this: