डेटाबेस क्या है और ये कितने प्रकार के होते है-What is database in hindi

database kya hota hai  आज का दौर डिजिटल चीज़ो का दौर है और बीते कुछ वर्षो में इसमें काफी तेज़ी भी आयी है हम प्रतिदिन जो भी कार्य करते है वो हम कंप्यूटर और मोबाइल के माध्यम से ही करते है जैसे मैसेज , ईमेल , न्यूज़पेपर , बुक्स , नोबेल , टिकट बुकिंग , ऑनलाइन शॉपिंग इत्यादि पहले ये सब काम ऑफलाइन हुआ करते थे जो की पेपरवर्क में हुआ करता था जिसके वजह ये अनगिनत एप्लीकेशन और रिकार्ड्स अपने घर और ऑफिस के टेबल आलमारी आदि में स्टोर करके रखते थे लेकिन अब ये जगह Database ने ले लिया हैdatabase kya hota hai  आपके मन में ये जानने की इच्छा जरूर हुयी होगी |

अब वो जमाना गया जिनमे हमे कागज़ की जरूरत पड़ती थी क्युकी अब हम उसके जगह कंप्यूटर का इस्तेमाल करते है अब हम डाक्यूमेंट्स को टेबल या आलमारी में नहीं बल्कि कंप्यूटर या इंटरनेट पर स्टोर करके रखते है कंप्यूटर में उन सभी चीज़ो को Serial By यानि क्रम अनुसार रखते है जिसे Database कहते है अपने कंप्यूटर पढ़ा होगा तो Database का नाम जरूर सुना होगा इसलिए आज हम आपको बताने वाले है की database kya hota hai  और ये कितने प्रकार का होता है इसे कैसे मैनेज किया जाता है |

database kya hota hai 

Also Read :- SEO kya hai 

डेटाबेस क्या है ( What is database in hindi )

डेटाबेस जानकरियों का संघ्रालय है जहा पर सम्बन्धित जानकरी का संग्रह करके रखा जाता है डेटा किसी भी जानकरी का एक छोटा सा हिस्सा होता है जो किसी व्यक्ति वास्तु या फिर स्थान से जुड़ा हुआ होता है जैसे की नाम , उम्र , वजन , घर का पता आदि ये सभी किसी व्यक्ति से जुड़े हुए डेटा है डेटा अलग अलग कई प्रकार के रूप में हो सकते है जैसे text , numeric , alfa numeric , image , graf , फाइल अदि के रूप में भी हो सकते है जब इन सभी डेटा को एक साथ Organise किया जाता है तो वो जानकारी बन जाता है और जानकरी के समूह से डेटाबेस बनता है |

database kya hota hai 

डेटाबेस में डेटा और जानकारी को organise करके रखा जाता है जिसमे जरूरत पढ़ने पर जानकारी को आसानी से access , manage और अपडेट किया जाता है और साथ में ये डेटा को Sharing और Security का भी नियंत्रण करता है इम्प्रॉनेशन को स्टोर करने के लिए कुछ सॉफ्टवेयर की भी इस्तेमाल किया जाता है जैसे MS Excel इनमे सभी डेटा  को इनपुट करने के बाद कंप्यूटर के हार्ड डिस्क में स्टोर किया जाता है MS excel में डेटा स्टोर करने के लिए एक टरनल का उपयोग करते है जिन्हे हम अलग -अलग कई सारे ROW और COLUMN में डिवाइड कर देते है ताकि हम आसानी से हम इसमें डेटा दाल सके और जरूरत पढ़ने पर प्राप्त या बदलाव भी कर सके

ठीक उसी तरह डेटाबेस में भी  डेटा को एक टेबल में स्टोर किया जाता है जिनमे कई जारी Column और Row होते है जिनकी वजह से उन्हें Access करना आसान हो जाता है एक डाटा के अंदर ऐसे बहुत सारे टेबल्स हो सकते है इंटरनेट पर आपको बहुत साडी ऐसी वेबसाइट मिल जाएगी जो डेटाबेस का उपयोग करती है जैसे फेसबुक को ही आप ले लीजिये जिसमे यूजर के बारे कई सारी डेटा जैसे कई उसका नाम , मोबाइल नंबर , प्रोफाइल पिक्चर , दोस्त , मैसेज , पोस्ट , स्टेटस अदि सभी जानकरी सर्वर में उपस्थित डेटाबेस में ही स्टोर रहते है जैसे हम फेसबुक पर किसी पर्सन के बारे में सर्च करते है तब फेसबुक के डेटाबेस से उस पर्सन कई हमे सभी जानकरी मिल जाती है इंटरनेट पर ऐसे बहुत से वेबसाइट है जो डेटा बेस का इस्तेमाल करती है |

डेटाबेस के मुख्य भाग कौन कौन से है ?

किसी भी डेटाबेस मुख्य 3 elements होते है

  1. Field
  2. Record
  3. Table

उदाहरण के लिए हम स्कूल के बच्चो के लिए एक स्कूल टेबल बनाएंगे जिसमे अलग अलग बच्चो के Name , Marks & Subject का डेटा रहेगा

database kya hota hai 

जैसे कई 1st नाम है Aman ये क्लास 8 में पढ़ता है विषय है मैथ इसी तरह सभी स्टूडेंट के नाम और उसके सब्जेक्ट में कितने मार्क्स आये किस क्लास में वो बताया गया है

Field

किसी भी डेटाबेस के column को field कहा जाता है जैसे सबसे ऊपर दिए गए स्टूडेंट टेबल में जो Column है जिसमे S . No , Name , Class , Subject और Marks है इन सबको Field कहते है |

Record

किसी टेबल्स को Rows को हम Record कहते है जैसे कई स्टूडेंट टेबल में 1  2  3  4  5 में 5 रिकार्ड्स दिए गए है जिसमे Student’s Name , Class , Subject और Marks का डेटा भरा हुआ है जिसे Records कहते है |

Table

Table , field और Records से मिलकर एक कंप्यूटर Table बनता है इस टेबल कई सारे अलग अलग लेकिन एक दूसरे से रिलेटेड डेटा एंट्री किये जाते है |

database kya hota hai 

डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम क्या है – What is DBMS in hindi

डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम जिसे DBMS भी कहते है ये एक सॉफ्टवेयर है जिसके जरिये यूजर डेटाबेस को Create , Define & Control करता है DBMS के उदाहरण है MySQL , Microsoft Access , ORACLE , Fox Pro , DB2 आदि DBMS का इस्तेमाल आमतौर पर डेटाबेस को मेन्टेन करने के लिए किया जाता है मतलब आप डेटा को डेटाबेस में Insert , Edit , Delete , Access और Update कर सकते है

जैसे आप ने के डेटाबेस बनाया स्टूडेंट टेबल अब इसमें आपको स्कूल के डिटेल को add करना है तो आप Insert के जरिये Add कर सकते है और अगर आप जाने अनजाने में गलत डेटा दे दिया है तो आपको स्टूडेंट डेटा में सुधार करना होगा तो ये आप Edit के जरिये कर सकते है कुछ दिन के बाद आपको पता चला कई स्टूडेंट का डेटा पूरा गलत है तो उसे आपको Delete करना होगा और किसी स्टूडेंट का नाम आपको पता करना है तो उसके रोल नंबर से आप डेटाबेस उसे उसका नाम पता कर सकते है जिसे Access कहते है |

जो डेटा पहले से ही मौजूद है और उसमे आप बदलाव कर रहे है तो उसे अपडेट कहते है ये सभी काम DBMS सॉफ्टवेयर डेटाबेस के जरिये किया जाता है |

डेटाबेस कितने प्रकार के होते है

डेटाबेस में डेटा को कैसे स्टोर Organised और manipulate किया गया है और इसका बनावट कैसा होना चाहिए ये डेटा मॉडल से पता चलता है इसे ये भी पता चलता है कई डेटाबेस में डेटा एक दूसरे से किस प्रकार जुड़ा रहता है और उनके बिच में सम्बन्ध कैसा है 3 प्रकार के डेटा मॉडल्स होते है

  1. Hierarchical Model
  2. Network Model
  3. Relational Model

Hierarchical Database Model

इस प्रकार के डाटाबेस में डेटा टेबल के साथ Tree Structure के रूप में व्यवस्थित किया जाता है इस मॉडल में रिकार्ड्स को आपस में जोड़ने के लिए Tree Structure को Follow किया जाता है झा पर संबंध को Child और Parent के रूप में दिखाया जाता है जैसे एक कॉलेज में बहुत सारे कोर्स , प्रोफेसर और बहुत सारे स्टूडेंट होते है तो उसमे College पैरेंट हुआ और प्रोफेसर और स्टूडेंट उसके Child हुए |

database kya hota hai 

Network Database Model

इसा के डेटाबेस में डेटा को रिकॉर्ड के रूप में दर्शाया जाता है और डेटा के बीच सम्बद्ध link के रूप में दर्शाया जाता है ये मॉडल काफी पावरफुल है लेकिन कॉम्प्लिकेटेड भी है क्युकी इसमें बहुत सारे Notes और Table आपस में Linked करते है |

Relational Database Model

ये मॉडल पावरफुल होने के साथ साथ सिंपल भी है इस मॉडल का बनावट टेबल जैसा ही होता है टेबल को डेटाबेस कई भाषा में Relaction कहते है इसलिए इसका नाम Relaction Model है इसमें टेबल के तरह ही Row और Column होते है इस फील्ड में Unique Field को Key कहते है इसमें Keys के जरिये टेबल को आपस में जोड़ा जाता है जैसे एक स्टूडेंट टेबल में Row No . primary Key होती है उसमे डेटा को खोजना बहुत ही आसान होता है |

database kya hota hai 

डाटाबेस के फायदे

डेटाबेस के बहुत सारे फायदे है जैसे

  • कम जगह में बहुत ज्यादा डेटा स्टोर किया जा सकता है
  • किसी भी जानकरी को आसानी से Access किया जा सकता है
  • नए डेटा को Insert करना और पुराने डेटा को Insert और Delete करना आसान है
  • Data को अलग अलग प्रकार से Sort किया जा सकता है
  • Paper file कई तुलना में अधिक Security  प्रदान करता है
  • एक ही डेटाबेस को कई सारे Users एक साथ Access कर सकते है

डेटाबेस कहा कहा पर इस्तेमाल किया जाता है

डेटाबेस का उपयोग अब हर जगह पर होता है या अब ये भी कह सकते है कई डेटाबेस के बिना इंटरनेट कुछ भी नहीं है डेटाबेस का उपयोग बहुत से जगह पर किया जाता है जैसे

  • Banking
  • School
  • College
  • University
  • Library Management System
  • Airlines

और भी बहुत से ऐसे जगह है जहा पर डेटाबेस का इस्तेमाल किया जाता है |

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल में आपको ये database kya hota hai  और इसका इस्तेमाल कहा पर किया जाता है और DBMS क्या होता है इन सब के बारे जाना आशा है ये जानकरी आपको जरूर पसंद आयी होगी तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर अपनी दे और सोशल मीडिया पर भी शेयर करे |

Leave a Comment

%d bloggers like this: